Tag Archives: riches

Money Quotes in Hindi – Money Shayari – Sufalta

धन किसी व्यक्ति का न्ही संमपुराण रास्ट्र का है.  यजुर्वेद धन से धन की भूख बढ़ती है, तरपति न्ही होता। प्रेमचंद पृश्राम के कमाया धन और उसका सदुपयोग बहोट बड़ी नियामत है. राजा ज़िमान गोधन गजधन वाजिधन और रतन धन ख़ान, जा आवे संतोष डॅन सब धन धुरी समान। कबीर यदि आप हमारे साथ कुछ Share करना …